रेत तस्करों ने ली एक और जान, गरीब मजदूर के परिजनों पर टुटा दुखों का पहाड

141

रेत तस्करों ने ली एक  और जान, गरीब मजदूर के परिजनों पर टुटा दुखों का पहाड.!

घटना गुरुवार 21 दिसंबर की सुबह करीब 4 बजे  चंद्रपुर जिला के चिमूर मुरपर-पिट्टीचुआ रोड पर हुई. मृतक का नाम आकाश सोनटक्के (निवासी नवेगांव, रामदेगी) है।
चंद्रपुर/महाराष्ट्र
दि . 22 डिसेंबर 2023
रिपोर्टर :- रमाकांत यादव जिल्हा प्रतिनिधि ग्लोबल महाराष्ट्र न्यूज नेटवर्क 
पूरी खबर :-चंद्रपुर जिले में रेत तस्करों का मनोबल बढ़ाने का काम अब जिले के पुलिस अधिकारी व जिला अधिकारी कर रही है? इन्हें लिखीत सुचना देने के बाद भी कोई कार्यवाही नहीं कर रही है इसी तरह अगर समाज में ऐसे चलता रहा तो आने वाले समय में जिस तरह दारू तस्करों ने पोलीस अधिकारी छत्रपति शेडें व गौतस्करों ने प्रकाश मेस्राम की जान ली थी। उसी तरह अब रेत तस्करों के हिंसक घटनाओं को भी अंजाम देने में थोड़ा भी संकोच नही होगा. आज इन रेत माफियाओं का मनोबल सातवें आसमान पर चढ़ा हुआ है.! और प्रशासन के मधुर संबंधों से बढ़ाने का काम जिला प्रशासन कर रही है।
बता दें वन क्षेत्र से अवैध रूप से रेत धुलाई करते समय ट्रैक्टर के नीचे दबने से एक मजदूर की मौत हो गयी. घटना गुरुवार 21 दिसंबर की सुबह करीब 4 बजे मुरपर-पिट्टीचुआ रोड पर हुई. मृतक का नाम आकाश सोनटक्के (निवासी नवेगांव, रामदेगी) है। तालुका में रेत तस्करों की संख्या बढ़ गई है और गांवों और वन क्षेत्रों के पास नदी चैनलों के माध्यम से बड़ी मात्रा में रेत की तस्करी की जा रही है। मृतक मुरपर-पिट्टीचुआ मार्ग से खड़संगी आ रहे एक बिना नंबर के ट्रैक्टर और ट्रॉली पर चालक की सीट पर बैठा था। अवैध रेत परिवहन के अतिरिक्त चक्कर की आवाज के बीच ट्रैक्टर चलाते समय आकाश अचानक ट्रैक्टर से गिर गया और पहिए की चपेट में आने से उसकी मौत हो गई।
घटना की जानकारी मिलते ही उपनिरीक्षक भीष्मराज सोरटे एक पुलिसकर्मी के साथ मौके पर पहुंचे. पंचनामा कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया. पुलिस ने बालू तस्करी करने वाले ट्रैक्टर को जब्त कर लिया है. मृतक अपने लकवाग्रस्त पिता और मां का एकमात्र सहारा था। आकाश की मौत से परिजनों पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है। आगे की कार्रवाई चिमूर पुलिस कर रही है.