घुग्घुस नगर परिषद की गुजरी ,आठवडी, बजार वसुली मे धांधली ,प्रमुख समस्या

67

घुग्घुस नगर परिषद की गुजरी ,आठवडी, बजार वसुली मे धांधली ,प्रमुख समस्या

चंन्द्रपुर/महाराष्ट्र
दि.13 फरवरी 2022
घुग्घुस प्रतिनिधि; हनिफ शेख

पुरी खबर:- 31 डिसेबर 2020 के दिन घुग्घुस ग्रामपंचायत को नगर परिषद का दर्जा मिलने बाद घुग्घुस मे नगर परिषद की स्थापना कि गई थी।नगर परीषद मे प्रथम महिला मुख्यधिकारी अर्शीया जुही ने कार्यलय का कार्यभार  संभाला।31 डिसेबर 2021 को नगर परिषद कि स्थापना होकर एक वर्ष बीत चुके है।लेकिन गांव स्वच्छ अभियान केवल कागदो तक सीमित है।नाली की सफाई,पाणी, प्रदूषण, मटन मार्केट गंदगी,कचरा, रोड कि सफाई, अदी प्रमुख समस्या से नागरीक वंचित है।प्रत्येक वार्ड कि प्रमुख समस्या पर निवेदन बार बार देने के बाद भी समस्या का कोई हल नही निकल रहा है।

आज पुरा शहर प्रदूषण, गंदगी, से भरपुर भरा है। गीले और सुखे कचरा कि उचित व्यवस्था नही नियमित कचरा संकलन,जरूरत मंद को घरकुल योजना,पथदीप,नियमित पाणी,सर्वांगीण विकास, स्वच्छता का नगाड़ा बजाने वाली नगर परिषद समस्या के घेरे में है।बीते एक वर्ष मे घर टॅक्स,पाणी टॅक्स, गुजरी बजार, आठवडी बजार,औद्योगिक कंपनी फंड,सरकारी फंड से पैसा भरपुर आ रहा है।लेकिन शहर मे सर्वागीण विकास नही हो रहा है।

सुञो से मिली जानकारी है कि नगर परिषद मे लिप्त गुजरी बजार,आठवडी बजार,की वसुली के पैसे मे नगर परिषद कर्मचारी खुद धांधली कर रहे हैं। दुकानदारो से हफ्ते कि आठवडी बजार से 30 से 35 हजार कि राशी जमा हो रही है।लेकिन रिकार्ड मे केवल 15 से 20 हजार रू दिखाकर लिपीक और कर्मचारी पैसे का काला धंदा वर्ष से कर रहे है।हफ्ता वसुली मे कभी बगैर पावती से मनमाने पैसा वसूल कर लेते है।इसी तरह नगर परिषद अंतर्गत गुजरी बजार मे भी डेली 2 से 2500 हजार रू कि नगदी वसुली है। इसे भी रिकार्ड मे मुल प्रयाप्त राशी जमा नही कि जा रही है।नागरीको ने नगर परिषद बजार मे वसूली करनेवाले कर्मचारी और हिसाब किताब का देखरेख करने वाले लिपीक पर कारवाई करने कि मांग मुख्यधिकारी अर्शीया जुही से कर रहे हैं।