रोपवे ट्राली बंद कराने के लिए संघर्ष समिति द्वारा दिया गया निवेदन

56

रोपवे ट्राली बंद कराने के लिए संघर्ष समिति द्वारा दिया गया निवेदन

चंन्द्रपुर/महाराष्ट्र
दि.15 फरवरी 2022
रिपोर्ट:- कामताकुमार सिह,दुर्गापुर

पुरी खबर:- वेकोलि दुर्गापुर से सिटीपीएस में दो  रोपवे ट्रॉली से कोयले ले जाने का काम पिछले 35 से 40 वर्षो से शुरू है। उक्त दोनों रोपवे ट्राली काफी पुराना हो गया है तथा इसका सिस्टम पुराने होने के कारण  कोयले के धूल उड़ने से रोकने में नाकाफी साबित हो रहा है। इस कारण आस पास के दो किलोमीटर तक रहने वाले 10 हजार लोंग बुरी तरह प्रभावित हो रहे है। दो दो रोपवे ट्राली के चलने से उसकी कर्कश आवाज और कोयले के उड़ने वाले धूल से रिहायसी लोंगो को दिन का चैन और रात के नींद दोनों खराब हो रहा है। इससे हृदय, चर्म, आंख, दमा, टी बी जैसे अनेकों बीमारियों की समस्या बढ़ गया। ऐसे भी रोपवे ट्राली आउट डेटेड हो गया है। इस कारण रोपवे ट्राली अक्सर खराब भी होते रहता है, जिससे मेंटेनेंस में ज्यादा खर्चा हो रहा है। पुराने दोनों ट्रॉलियों को चलने से कर्कश आवाज और काला धूल उड़ने से हजारों लोंगो को हो रहे नुकसान को देखते हुए ग्राम पंचायत उर्जानगर ने लोंगो की मांग पर 23 नवंबर 2021 के आम सभा में दोनों रोपवे ट्रॉली हटाने के लिए प्रस्ताव भी पास किया  है। परन्तु सिटीपीएस प्रबंधन इस ओर से आंखे मूंदे हुये  है।

दुर्गापुर उर्जानगर संघर्ष समिति ने दिया निवेदन

  •       दुर्गापुर उर्जानगर संघर्ष समिति ने दो दो रोपवे ट्राली के कारण हो रहे धूल ,वायु और ध्वनि प्रदूषण को रोकने के लिए एल टी बंकर (रोपवे) बंद करने की मांग  सीटीपीएस के मुख्य अभियंता को निवेदन देकर किया है। जिसका प्रतिलिपि  जिलाधिकारी, महाराष्ट्र राज्य प्रदूषण नियंत्रण मंडल, वेकोलि के महाप्रबंधक और ग्राम पंचायत उर्जानगर  को दिया गया। साथ ही पूर्व पालक मंत्री और क्षेत्र विधायक सुधिर मुनगंटीवार को निवेदन देकर रोपवे ट्राली बंद कराने की मांग की गयी। सुधिर मुनगंटीवार ने आश्वाशन दिया है कि यथासंभव कोशिश करूंगा। निवेदन की कॉपी और रोपवे ट्राली के चलने से उड़ने वाले धूल के वीडियो क्लिप सांसद सुरेश धनोरकर को भेजा गया है। सांसद धनोरकर ने भी मुद्दे को उचित मंच पर उठाने के लिए संबंधित अतिरिक्त कागजात और वीडियो क्लिप की माँग की है।
    राज्य के पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे को रविवार को चन्द्रपुर दौरा के दौरान  दुर्गापुर उर्जानगर संघर्ष समिति द्वारा ज्ञापन दिया जाने वाला है। कोशिश यह है कि किसी भी पार्टी, नेता और मंत्री  के माध्यम से रोपवे ट्राली हटाया जा सके तो दुर्गापुर  उर्जानगर को भला हो जाएगा।

133 लोंगो का हस्ताक्षर युक्त दिया गया निवेदन

  • निवेदन में संघर्ष समिति के  मुख्य संयोजक ,बालू चांदेकर, मुन्ना आवले,  प्रा.शालिक फाले, पूर्व सरपंच देवदास रामटेके, शैलेश शेंडे, किशोर आवले सहित 133 लोंगों का हस्ताक्षर वाला निवेदन संबंधित सभी अधिकारियों, और जनप्रतिनिधियों को दिए गए और आगे और पालक मंत्री व मंत्री को दिए जाएंगे। संघर्ष समिति के मुख्य पदाधिकारियों बालू चांदेकर और मुन्ना आवले ने बताया कि जिस प्रकार से जनप्रतिनिधियों ने आश्वाशन दिया है, इससे लगता है कि रोपवे ट्राली के बंद करने का फैसला जल्द ही हो जाएगा। कारण कि इससे गाँव के हजारों नागरिकों को धूल – ध्वनि के प्रदूषण से निजात तो मिलेगा ही ,इससे वेकोलि दुर्गापुर और सिटीपीएस  को भी अन्य रूप से लाभ होगा। फिर भी रोपवे हटाने का फैसला विभागीय रूप से नहीं किया गया तो गाँव वासियों के साथ मिलकर दुर्गापुर-उर्जानगर संघर्ष समिति द्वारा तीव्र आंदोलन करेगा।