आयरन कोल वाशरी मे कोरोना नियम की उड़ी धज्जियां, ग्राम वासियों को कोरोना संक्रमण का खतरा, राजूरा तहसीलदार को ग्राम वासियों ने सौंपा निवेदन

775
  • आयरन कोल वाशरी मे कोरोना नियम की उड़ी धज्जियां

चंद्रपुर/महाराष्ट्र
दि. 12 अप्रैल 2021

पूरी खबर:- चंद्रपुर जिला यह.औद्योगिक जिले से प्रसिद्ध है  जिले में काले सोने की खाने हर ओर हैं उद्योगों को और बिजली उत्पादन के लिए कोयले की जरूरत होती है। जिसकी सप्लाई कोयला खानों से की जाती है। कोयला खानों से निकलने वाले कोयले में मिट्टी मिश्रित होती है, इस कारण इस कोयले को शुद्ध करने की आवश्यकता होती है। इसी मिश्रित कोयले को शुद्ध करने के लिए अनेक जगह अनेक कोल वाशरी पुनः चालू की गई है।

राजुरा मे आयरन कोल वाशरी

  • चंद्रपुर जिले के राजूरा तहसील में कोयला खाने हैं जिसमें राजुरा तहसील का कोल वाशरी उद्योग जोर पकड़ रहा है। विशेषकर राजुरा तहसील की पांडवपौनी ग्राम में कोल वाशरी कार्यरत है परंतु ग्राम से सटे आयरन कोल वाशरी में कोरोना नियम का खुलेआम उल्लंघन किया जा रहा है। जिस वजह से ग्राम में रहने वाले नागरिकों का स्वास्थ्य खतरे में आ गया है। जिससे ग्रामवासियों को कोरोना संक्रमण होने का डर सता रहा है।

ग्राम वासियों ने तहसीलदार इन्हें निवेदन द्वारा कोरोना संक्रमण के खतरे से अवगत कराया

  1. पूरी खबर :- इस प्रकार है आयरन कोल वाशरी में रोजाना 150 से 200 ट्रकों का आवागमन होता रहता है। इन वाहन के ड्रावर तथा मजदूर कोरोना नियम का पालन नहीं कर रहे हैं?  ऐसा यहा देखा गया है यह लोग बगैर मास्क के परिसर में भ्रमण कर रहे हैं।

रोजाना 150 से 200 वाहन दूसरे राज्य से आने के कारण आज ग्राम वाशियों को कोरोना संक्रमण होने का खतरा सर पर मंडरा रहा है। जिसे रोकने की मांगे यहां के नागरिकों ने की है इन वाहन चालकों तथा मजदूरों की कोरोना जांच हुई है? या नहीं इसकी किसी भी प्रकार की जांच कंपनी द्वारा नहीं की जा रही है। इन वाहन चालकों का 72 घंटे पूर्व करोना जांच हुई है या नहीं इसका भी प्रमाण कंपनी के पास मौजूद नहीं है? यह वाहन चालक जरूरी वस्तुओं को लेने के लिए ग्राम की दुकानों में आते पर वे लोग मास्क का इस्तेमाल नहीं करते यदि उन्हें टोका जाता है तो वे लोग ग्राम वासियों से उलझ पड़ते हैं इन लोगों के इस तरह के बर्ताव से ग्राम वासियों में कोरोना संक्रमण फैलने से नकारा नहीं जा सकता है।


कोयले का झोल, सीबीआई विजिलेंस के छापे के बाद कुछ ही किलोमीटर पर कोयले के हेरा फेरी का भंडाफोड़


  • यदि ऐसा कुछ होता है तो क्या आयरन वाशरी इसकी जवाबदारी लेंगी?  ऐसा  प्रश्न ग्राम वासियों ने किया है  संदीप गायकवाड इन्होंने मौजूद प्रतिनिधियों के साथ  कहा और इसी संदर्भ में राजूरा तहसीलदार को निवेदन सौंपा गया और इस पर तहसीलदार क्या कार्रवाई करते हैं। इस  पर ग्राम वासियों को इंतजार रहेगा।