मारडा ,वेडली के खेत ऊगल रहे रेत? खेतो की शोभा बढा रहे रेत के ढेर.! नागपुरे की खेतो मे जमा रेत का मालिक कौन?

84

मारडा ,वेडली के खेत ऊगल रहे रेत? खेतो की शोभा बढा रहे रेत के ढेर.!

नागपुरे की खेतो मे जमा रेत का मालिक कौन?

चंन्द्रपुर/महाराष्ट्र
दि.17 फरवरी 2022

पुरी खबर:- चंन्द्रपुर शहर के मध्य मे स्थित रामाडा तलाव का खोलिकरन और सौदर्यीकरण का कार्य धिमी रफ्तार से चल रहा था और पर्यावरण म़त्री आदित्य ठाकरे के सर्वे करने के बाद उन्होंने सक्त आदेश दिया। और रामाला तलाव का कार्य दोगुनी  रफ्तार होने लगा। यह कार्य प्रनाली की सराहना आज जनता की हितकारी साबित भी होती दिखाई दे रही है।

पर रामाला तलाव के सर्वे के बाद पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे ने इरई नदी का सर्वे कर जनता के भरोसे को यह साबित किया की वे कितने संवेदन सिल है। उन्हें पार्यावरण से कितना लगाव है। पर उनका दौरा समाप्त होते हि पठान पुरा के रेत तस्करो ने  रेत की तस्करी को और जोरो शोरो से जारी कर प्रसासन और सरकार को चैलेज दिया है।
रोक सको तो रोक लो हम तो 45 हजार रुपए महिना दे रहे है? अब हमे ना हि RTO का डर है? और ना ही टाफिक का डर है क्योंकि हम तो 45 हजार रुपए महिना दे रहे है?
प्रसासनिक व्यवस्था को ललकार रहे यह रेत तस्कर किसके दम पर यह दम भर रहे है? 45 हजार की देनगी पर या फिर कुछ अधिकारियों से मधुर संबधो पर? आज यह प्रश्न जनता मे उठ रहा है। जनता जानती है समय देख अपने को ठगा महसूस कर रही है।

प्रसासन की लचिली व्यवस्था और मधुर संबंधों को दर्शाता?

  • हमारे टिम द्वारा देखा गया की यह रेत तस्करो का मनोबल आज सातवे आसमान पर है क्योंकि अब तक इरई नदि हि इनके टारगेट पर थी पर अब यह तस्कर एक कदम आगे उठाते हुए वर्धा नदि को भी नही छोडा है। जिसमे शिवनी घाट से रेत निकाल नागपुरे ने खेतो मे काली रेत जमा कर मंडल के अधिकारी से सेटिंग कर अपना कार्य जारी रख महसूल विभाग को लाखो का चुना लगा ललकार रहे है। हमारे द्वारा सबुत इकट्ठा करने पर यह देखा गया कि परिषर के हर खेत मे अवैध वर्धा नदी शिवनी घाट किया रेत को जमा अर बेचा जा रहा है जिससे महसूल विभाग को करोड़ों का चुना लगाया जाना कुछ प्रसासनिक अधिकारियों की लचिली व्यवस्था और मधुर संबधो को दर्शाता है. नागपुरे की पहुच से रेत तस्करी को पुरे षडयंत्र से अंजाम दिया जाना आज कई सवाल खडे हो रहे है।