बामणी प्रोटीन लिमिटेड में श्रमिकों के अधिकार के लिए शीव सेना “मैदान” मे..

31

बामणी प्रोटीन लिमिटेड में श्रमिकों के अधिकार के लिए शीव सेना “मैदान” मे..

बामणी प्रोटीन मजदुरो का का सहपरिवार धरना आंदोलन..

चंद्रपुर/महाराष्ट्र
दि. 14 जुन 2024
रिपोर्ट : रमाकांत यादव, ग्लोबल महाराष्ट्र न्यूज नेटवर्क

पुरी खबर :- महाराष्ट्र के बल्लारपूर में स्थित बामनी प्रोटीन्स लिमिटेड के श्रमिकों ने पिछले 23 दिनों से भारतीय केमिकल वर्कर्स यूनियन के नेतृत्व में धरना प्रदर्शन कर रहे है. कल बुधवार की सुबह से कामगारों ने अपने सहपरिवार के साथ धरने पर बैठने का निर्णय किया है. जिसकी जानकारी शिव सेना उद्धव बाळासाहेब ठाकरे के जिला अध्यक्ष संदीप गिऱ्हे और जिला उपाध्यक्ष शिक्कि यादव तथा उनके पदाधिकारियों को मिलने पर सभी धरना स्थल पर भेट देकर अपना समर्थन श्रमिकों देने की घोषणा की है, श्रमिकों के सहपरिवार का धरना आंदोलन में शामील होना विषय की गंभीरता को दर्शाता है. बामनी प्रोटीन प्रबंधन के खिलाफ कामगार परिवारों द्वारा कड़ा विरोध हो रहा है,
आज वर्षो से काम कर रहे मजदूरों पर आर्थिक संकट गहराया हुआ है. यहां पर स्थित मजदूरों का कहना है की पहले ही महंगाई और बेरोजगारी से जनता त्रस्त है और आज उनका रोजगार बंद हो जाने से उनके परिवार पर संकट के बादल छाए हुए है.

इंडियन केमिकल वर्कर्स यूनियन की ओर से की गई घोषणा में स्पष्ट किया गया कि, अगर प्रबंधन ने उद्योग को चालू करने के लिए सकारात्मक कदम नहीं उठाया तो, प्रबंधन को गंभीर परिणाम भुगतने होंगे, साथ ही भारतीय केमिकल वर्कर्स द्वारा धीरे-धीरे आंदोलन की तीव्रता को बढ़ाया जाएगा.
आज इस सह-परिवार विरोध प्रदर्शन में कामगारों के लगभग 300 परिवार के सदस्यों ने भाग लिया। अगर मजदूरों को अपने परिवार के साथ विरोध प्रदर्शन करने की नौबत आई तो, मजदूर के परिवार अपने बच्चों के साथ सड़कों पर उतरने से भी नहीं हिचकिचाएंगे, ऐसा मजदूरों के परिवारों ने कहा है. यहा अनेक कामगारों की महिलाओं ने अपने विचार प्रकट किए है. काम बंद होने से परिजनों की आय बंद हो जाएगी. जिसका असर बच्चों की पढ़ाई पर होना तय है. कई कामगारों ने कार व मकान लोन पर लेने से उनके समक्ष कर्ज की ईएमआई भरने की समस्या उत्पन्न हुई है, जबकि यहां पर 1998 से कामगार पूरी मेहनत व ईमानदारी से काम कर रहे है. अब कंपनी बंद होने से करीब तीन सौ परिवार के समक्ष भूखे मरने की नौबत आ गई है.

शिव सेना जिला अध्यक्ष संदीप गिन्हे और शहर अध्यक्ष शिक्कि यादव का आन्दोलन को समर्थन

शिव सेना जिला अध्यक्ष संदीप जिन्हें और बल्लारपुर से जिलाउपाध्यक्ष शिक्की यादव ने श्रमिकों को समर्थन देते हुए घोषणा की है कि, यदि कंपनी प्रबंधन इस निर्णय को जल्द ही वापस नही लेता है तो, वे मजदूरों को न्याय दिलाने के लिए सड़कों पर उतरेंगे और यह आन्दोलन आने वाले समय में तिव्र करेंगे. वही श्रमिकों को न्याय दिलाने तक आन्दोलन जारी रहेगा. जिसका जिम्मेदार कंपनी प्रबंधन होगा