रामपाल सिंह की मांग पर जी एम ने दिया आश्वासन, 

47
रामपाल सिंह की मांग पर जी एम ने दिया आश्वासन, 
धूल रोकने के लिए टेंडर प्रक्रिया शुरू
 
चंद्रपुर/महाराष्ट्र

दि .20 जनवरी 2024

रिपोर्टर :- रमाकांत यादव जिल्हा प्रतिनिधि ग्लोबल महाराष्ट्र न्यूज नेटवर्क
 
 
पूरी खबर :-ग्राम पंचायत उर्जानगर के वार्ड क्रमांक  5 और 6 के बीचोंबीच में कोयले ढुलाई के लिए बनाये गए रोपवें ट्राली बेहद पुराना हो गया है। इस कारण बहुतायत में धूल निकलने से 10 हजार लोंग बुरी तरह प्रभावित हो रहे हैं। कोयले डंपिंग, बंकर से लेकर रोपवें ट्राली तक विभिन्न प्रक्रिया करने के दौरान अनेकों जगहों से कोयले की काली धूल उड़ता है। जिसके कारण 1 किलोमीटर तक के रिहायशी क्षेत्र के घरों, दरवाजे, छतों सड़कों में धूल का पड़त जमा हो जा रहा है।
     इस संबंध में भाजपा नेता और अभियंत्रिकी विद्यालय के नियामक मंडल अध्यक्ष रामपाल सिंह के नेतृत्व में धूल पीड़ित वासियों ने वेकोलि महाप्रबंधक दातार से उनके कार्यालय पहुंचकर निवेदन दिया और यथाशीघ्र हल निकालने के लिए कहा गया। गुरुवार के दोपहर में हुए महाप्रबंधक  के साथ मिटिंग में  दातार ने कहा कि हमारी तरफ से धूलों के रोकने के लिए पुख्ता उपाय किया जा रहा है। थोड़ी कुछ कमी रह गई है उसके लिए टेंडर की प्रक्रिया शुरू कर दिया गया है।
रामपाल सिंह ने कहा कि अभी भी बहुत धूल उड़ रहा है। इसके लिए उन्होंने सबूत के तौर पर वीडियो और फोटोग्राफ दिखाया। वीडियो में कोयले धूलों का बवंडर साफ साफ दिखाई दे रहा था। महाप्रबंधक दातार ने अपने अधिकारी को तुरंत  गांववासियों को साथ जाकर देखने के लिए कहा। साथ ही उसकी रिपोर्ट पेश करने के लिए भी कहा।
कोयला डंपिंग के समय उड़ने वाले काली धूल से हो रही परेशानी पर महाप्रबंधक ने कहा कि उसकी चारो तरफ शीट से घेरकर धूलों को रोकेंगे। स्प्रिंकलर की ऊँचाई पर लगाने और फव्वारे का पक्का बन्दोवस्त करेंगे। इसपर उपस्थित लोंगो ने धूलों से मुक्ति पाने के लिए स्थाई इलाज करने के कहा तब जी एम ने कहा कि यह दो विभागों के बीच का उपक्रम है। सिटीपीएस क्या चाहती है उसपर काफी कुछ निर्भर करता है। वेकोलि का काम है कि सिटीपीएस को कोयला दें। सिटीपीएस जिस माध्यम से हमसे कोयले ले जाये, हमें दिक्कत नहीं है। कारण की ट्रांसपोटिंग  का खर्च सिटीपीएस उठाती है।
  पदमापुर खदान बंद होने से पहले उक्त खदान का कोयला सिटीपीएस वैगन के माध्यम से ले जाया करती थी। दुर्गापुर खदान का कोयला सिटीपीएस द्वारा रेलवे वैगन के माध्यम से ले जाना शुरू कर दें, तो धूल की समस्या ही हल हो जाएगी। इससे वेकोलि कॉलोनी वासी सहित आसपास के सभी को धूलों से राहत मिल सकती है। सिर्फ सही और उचित सोच की जरूरत है।
   मीटिंग में रामपाल सिंह सहित उर्जानगर ग्राम पंचायत सदस्य मदन चिवंडे, दुर्गापूर ग्राम पंचायत उपसरपंच प्रज्योत पुणेकर, अनु.जाती आघाडी तालुका अध्यक्ष नंदुभाऊ इंगळे, राजू वानखेडे, गुड्डू पारधी, राजू कटरे, दीपक लावळे, रामभाऊ इंगोले, राजेंद्र पेलने, पंकज नवलाखे, श्रीकांत डाखरे, विपीन खनके आदि लोंग उपस्थित थे।