वार्ड नं की नारकीय स्थिति, मनपा में शामिल होने की इच्छा.

11

वार्ड नं की नारकीय स्थिति, मनपा में शामिल होने की इच्छा..

ग्रामपंचायत उर्जा नगर ने जमीन एक बिल्डर को दे दिया?

कामता कुमार सिंह, दुर्गापुर सवांददाता-
दि.13 सप्टेबर 2022

पुरी खबर:- विध्नहर्ता गणेश जी के विसर्जन के बाद एक बार फिर मौनसून ने अपना रूप दिखाना शुरू कर दिया है। नदी नाले के किनारे रहने वाले को सतर्क रहने की जरूरत है। लगातार बारिश से कमजोर मकान गिरने की नौबत भी आ सकती है। बारिश होने के कारण घरों में सीलन होना शुरू हो गया है। घरों, सड़को व ओपन स्पेस में पानी जमा होना शुरू हो गया है।

ग्राम पंचायत वार्ड नं 1 के आयुष नगर के बंद कॉलोनी में बरसाती पानी का निकासी नहीं होने से घुटने भर पानी जमा हो गया है। वार्ड नं 1 के ही केशरीनंदन नगर के कई घरों का पानी की निकासी नहीं रहने के कारण पास के घरों के लोंगो को पिछले कई सालों से दिक्कते हो रहा है। चेक पोस्ट के पास के कंक्रीट रोड पर पानी जमा होने के कारण लोंगो को सड़क पर चलना मुश्किल हो रहा है। समता नगर में रमेश गद्रे के घर के पास के नाली का कीचड़ तेज बारिश के कारण सड़क पर बुरी तरह फैल गया। स्थिति तो यहाँ तक हो गया था कि सड़क के दोनों तरफ का नाली सड़क एक समान दिख रहा था। 100 से 150 मीटर तक पैदल चलना तो दूर, उस रास्ते से मोटर साइकिल से चलना भी मुश्किल हो रहा था।

वार्ड नं 1 में कई घरों तक जाने के लिए रास्ते नहीं और घरों को पानी निकालने के लिए नाली अभी तक नहीं बना है। पानी के पाईप डालने के लिये तोड़ फोड़ और गड्डा किया गया परन्तु उसे ढंग से भरा नहीं गया।

वार्ड वासियों को मनपा में शामिल होने की इच्छा

ग्राम पंचायत उर्जानगर को पिछले वर्ष सीटीपीएस की ओर से करोड़ो रुपये बतौर गृह घर दिए गए थे ,बावजूद वार्ड नं 1 को विकास नहीं किया गया। इस कारण इस वार्ड के लोंग बेहद गुस्से में है। लोंगो का कहना है कि वार्ड नं 1 के समता नगर, आयुष नगर, केशरीनंदन नगर को ग्राम पंचायत उर्जानगर विकास नहीं कर सकता तो अच्छा होगा कि इस क्षेत्र को मनपा उर्जानगर में शामिल कर दें।


ग्रामपंचायत उर्जा नगर ने जमीन एक बिल्डर को दे दिया?

वार्ड नं 1 की स्थिति बेहद नाटकीय बनी हुई है। जगह जगह पर नाली चोकप है। कई सड़कों को ग्राम पंचायत के सहमति से लोंगो ने कब्जा कर लिया है। ग्राम पंचायत उर्जानगर ने सार्वजनिक ओपन स्पेस पर कब्जा कर के मकान बनाये हुए लोंगो को अनेकों सुविधा दे रखा है। हाल ही में ग्राम पंचायत उर्जानगर ने 2000 रुपये प्रति चौरस फुट कीमत वाला सैकड़ों फुट ओपन स्पेस वाला जमीन एक बिल्डर को दे दिया। लोंगो ने विरोध किया, लिखित शिकायत की फिर भी वर्तमान सरपंच ने बिल्डर को जमीन कब्जाने दिया। उस पर कंक्रीट मकान बनाने दिया।

इस प्रकार के अनेकों मामले जो ग्रामपंचायत के सरपंच, सचिव और सदस्यों ने वार्ड नं 1 के लोंगो को हर तरह से नुकसान करने में लगा है। लोंग ग्राम पंचायत उर्जानगर के कारनामों से ऊब गए है। लोंग चाहते है कि ऐसे ग्राम पंचायत से छुटकारा मिले जो कि हमारी जिंदगियां को नरक बनाकर रखा है।
मनपा में शामिल होने पर ढंग के नाली, रोड तो बनेंगे ही, ओपेन स्पेस का डेवलपमेंट होगा। लोंगो द्वारा कब्जा किये गए रोड और ओपन स्पेस को खाली कराया जा सकेगा।