चंद्रपुर श्रमिक पत्रकार भवन में डिजिटल कार्यशाला |

23

चंद्रपुर श्रमिक पत्रकार भवन में डिजिटल कार्यशाला |

चंद्रपुर/महाराष्ट्र दि: २९ जुन २०२२

पुरी खबर चंद्रपुर: डिजिटल मीडिया का प्रसार प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के लिए एक बड़ी चुनौती है। डिजिटल मीडिया वास्तव में क्या है? इसे जानने और समझे के लिए चंद्रपुर श्रमिक पत्रकार संघ भवन में डिजिटल मीडिया कार्यशाला का आयोजन किया गया. कार्यशाला में वरिष्ठ पत्रकार और डिजिटल मीडिया पब्लिशर अँड न्यूज पोर्टल ग्रिवेंस कॉन्सिल ऑफ इंडिया के सदस्य देवनाथ गंडाटे ने मार्गदर्शन किया।

 

समाचार चैनलों के प्रतिनिधि उपस्थित थे.

  • कार्यशाला का आयोजन चंद्रपुर श्रमिक पत्रकार संघ द्वारा किया गया था। कार्यक्रम में अध्यक्ष मजझर अली, सचिव बाळू रामटेके, कोषाध्यक्ष प्रवीण बतकी, वरिष्ठ पत्रकार आशिष अंबाडे, प्रशांत विघ्नेश्वर, डिजिल मीडिया असोशिएशनचे अध्यक्ष जितेंद्र चोरडिया, ग्रामीण पत्रकार संघाचे अध्यक्ष राजेश सोलापन और समाचार चैनलों के प्रतिनिधि उपस्थित थे.

 

पिछले 2 साल से शॉर्ट वीडियो पत्रकारिता शुरू

  • गंडाटे ने बताया की पत्रकारों को डिजिटल मीडिया के माध्यम से रोजगार हासिल हो सकता है। कार्यक्रम में गूगल और जीमेल के कई फायदे, फेसबुक और ट्विटर, व्हाट्सएप और टेलीग्राम के बीच अंतर, बिजनेस व्हाट्सएप क्या है?, नई पत्रकारिता में महत्वपूर्ण ऐप, ऑनलाइन जॉब के बारे में बताया गया। जहां पिछले 5-6 सालों से न्यूज पोर्टल के जरिए पत्रकारिता आम हो गई है, वहीं अब पिछले 2 साल से शॉर्ट वीडियो पत्रकारिता शुरू हो गई है. देवनाथ गंडाते ने कहा कि इसमें नए पत्रकारों का भविष्य है। इस दौरान प्रतिभागियों की शंकाओं एवं विभिन्न प्रश्नों का समाधान किया गया।

 

संघटन के उपाध्यक्ष प्रशांत विघेश्वर ने प्रस्तावना रखी, जबकि सचिव बालू रामटेके ने धन्यवाद प्रदर्शन किया। इस समय ग्रामीण क्षेत्रों के पत्रकारों की उपस्थिति महत्वपूर्ण थी। कार्यक्रम के आयोजन में राजेश निकलोल, धम्मशील शेंडे, रोशन वाकड़े, देवानंद साखरकर और सुनील बोकडे ने सहयोग किया। कार्यशाला में वरिष्ठ पत्रकार आशीष अंबाडे, हैदर शेख, जितेंद्र जोगड़, अनिल देठे, प्रकाश देवगड़े, कमलेश सतपुते, भोजराज गोवर्धन, मंगेश पोटवार, वीरेंद्र यमलावार तथा अन्य पत्रकरो ने भाग लिया।