कन्नमशाह दरगाह के पास अवैध रेत का भंडार, कार्रवाई करने मे नाकाम जिला प्रसासन

76

कन्नमशाह के पास अवैध रेत का भंडार, कार्रवाई करने मे नाकाम,

जिला प्रसासन को जानकारी देनेपर भी कार्रवाई का इनतजार

चंन्द्रपुर/महाराष्ट्र
दि.23 जनवरी 2022

पुरी खबर:- चंन्द्रपुर जिले की इरई नदि से बडे पैमाने मे रेत की तस्करी लगातार और दबंगई से जारी है इन तस्करों पर लगाम कसने की हिम्मत भी कोई नही जुटा पा रहा है शहर के पठानपुरा से कुछ हि मीटर पर रेत माफिया दिन दहाडे दो मशिने लगाकर दर्जनो ट्रैक्टरो से रेत उठाकर लालपेठ मे हि स्थित एचपी गैस गोदाम के पिछे खुले आम रेत जमा करते है फिर वहीं रेत को समय देख 4 गुना ज्यादा दामो मे बेचकर सरकार, पर्यावरण और इरई नदी को नुकसान पहुंचा रहे। इन पर कार्यवाही करने मे आज प्रसासन डर रहा है? या फिर लेन देन मंथली या फिर राजनैतिक दबाव के कारण इन पर कार्यवाही नहीं की जा रही है? कहा है समाजसेवी, पार्यावरण प्रेमी, समाज सेवक क्या चाल्लाकर रह जाते है? या फिर कुछ और है? ऐसी स्थिति जारी रहती है तो यह समाज कानून व्यवस्था के लिए चिन्ताजनक है।

आज पुलिस, महमुल और तहसील प्रसासन के पास कार्रवाई के अधिकार होने के बाद भी इन पर कार्रवाई ना होना  व्यवस्था लाचारी को दर्शाता है?

आज जनता अपने आपको लाचार समझ मुक दर्शक बनी बैठी है। वही रेत तस्कर जनता का मजाक बना ठहाके लगता ते हुए अपने इसकार्य को अंजाम दे रहे है।

पिछले दो वर्ष पुर्व 2020 मे महसुस विभाग द्वारा 64 लाख से अधिक गौण खनिज गाडियों का चालान कर सरकार के खाते मे जमा किया गया था इसके बाद 2021 मे इसी विभाग ने 24 लाख से अधिक का चालान कर अपनी मौजुदगी दर्शायी थी और सरकारी कोष मे भी इजाफा हुआ। पर इस वर्ष 2022 मे हमारे द्वारा मागे गए, RTI दि. तक महसूस विभाग कुछ एक कार्रवाई के आलावा और कुछ नही कर पाए है वहीं इरई नदी से रेत तस्करी बदस्तूर जारी है। और माफिया सक्रिय होकर जनता को रिझा रहे है।