चंन्द्रपुर क्राईम ब्रांच ने अंतरराज्यीय गोवंश टोली का हुआ पर्दाफाश, ९८ जानवरों को तस्करो से बचाकर गौशाला मे छोडा…

82

चंन्द्रपुर क्राईम ब्रांच ने अंतरराज्यीय गोवंश टोली का हुआ पर्दाफाश,

९८ जानवरों  को तस्वीरों से बचाकर गौशाला मे छोडा…

चंन्द्रपुर/महाराष्ट्र
दि. 04 डिसेबर 2021

पुरी खबर:- तेलंगाना आंध्र प्रदेश राज्य मे कंटेनर मे निर्दयता से भरकर कत्लखाने लेकर जाने वाले अंतरराज्यीय गोवंश टोली का पर्दा फास किया गया चंन्द्रपुर लोकल क्राइम ब्रांच को बडी कामयाबी मिली है गडचिरोली जिले से आने वाले तीनों वाहनो को पकडने पर ९८ जानवर छुडाकर लोहारा गौवशाला मे भेजा गया है।

तस्करी मे बडे वाहनो का इस्तेमाल

  • चंद्रपुर जिले से तेलंगाना आंध्र इन राज्य में बड़े पैमाने पर कत्लखाने में गोवंश जानवरों को ले जाया जाता है तस्करी के लिए चार पहिया वाहनों का इस्तेमाल किया जा रहा है और बड़ी ही निर्दयता से इन जानवरों को वाहनो मे भूसे की तरह भरा जाता है तस्करी करने वाले चंद्रपुर जिले से अलग-अलग मार्गों से तस्करी करते है। इस बात कि शिकायत पुलिस को मिल रही थी। इसके बाद पुलिस अधिक्षक अरविंद साडवे नाम गुनेहगारो पर अंकुश लगाने के लिए कार्रवाई का निर्देश दिया। जिसके बाद स्थानीय गुनाह शाखा के पुलिस निरिक्षक बाला साहेब खाडे ने एक विषेश पथक तयार कर तस्करी करने वालो पर वाच रखा।

गडचिरोली से तेलंगाना गौवंश तस्करी..

  • गडचिरोली जिले से ३ कन्टेनर मे जानवरों को भरकर तेलंगाना आध्रप्रदेश मे परिवहन होने की सुचना स्थानीय गुनाह शाखा के पुलिस निरिक्षक बाला साहेब खाडे को प्राप्त हुई जिसके बाद अपने सहकर्मी कर्मचारियों के साथ लोहारा गांव के पास जाल रचा गया तो ३ ट्रको को रोकर जाच करने पर जानवर दिखाई दिए और उनमे ३ जानवरो की मुत्यु अवस्था मे पाए गए बाकी के जानवरों को गोशाला मे भेजा गया।

इस कार्यवाही मे शेख अकबर शेख चांद उम्र ३१ वर्ष हैद्राबाद, शेख महबूब शेख उम्र ३४ वर्ष हैद्राबाद,इमरान गोसीर खान उम्र ३५ वर्ष गडचिरोली, शेख महबूब शेख अलताफ उम्र १८ वर्ष वाकडी, तेलंगाना, मुक्तार मुबारक उम्र 27 वर्ष वाकडी, तेलंगाना इनके.विरुद्ध रामनगर पुलिस स्टेशन मे गुनाह दर्ज किया गया है यह कार्यवाही पुलिस अधिक्षक अरविंद साडवे, अपर पुलिस अधिक्षक अतुल कुलकर्णी के मार्ग दर्शन मे स्थानीय गुनाह शाखा के पुलिस निरिक्षक बालासाहेब खाडे के नेतुत्व मे स़जय अतकुलवार, प्राजल झिलपे, रवींद्र पधरे, नितीन सालवे, प्रकास बल्की, सुभाष गौरकार, सतीश बगमारे, दिनेश हरडे ने की है।