राजूरा गढ़चादूर मार्ग बन रहा कोयला तस्करी का जिले में सबसे बडा गढ..! निर्भयता से चल रही निरंतर चल रही कोयला तसकरी.! भाग–3

122

राजूरा गढ़चादूर मार्ग बन रहा कोयला तस्करी का जिले में सबसे बडा गढ..!

निर्भयता से चल रही निरंतर चल रही कोयला तसकरी.!

भाग–3

चन्द्रपुर/महाराष्ट्र
दि.06 सप्टेम्बर 2021
राजुरा/प्रतिनिधि

पुरी खबर:– चंद्रपुर जिले में कोयले की खानों के कारण यहां पर समरसेबल कोई लेकर अफरा-तफरी तक तथा कोयले की चोरी की कई बड़ी घटनाएं सामने आ रहीहै जिसमें कोयला जैसी राष्ट्रीय संपत्ति को कोयला चोरों ने तथा अवैध कोयला साहूकारों ने बंदरबांट करने मे कोई कोर कसर नहीं छोडि है वही आज चंद्रपुर जिले के राजुरा गडचांदुर मार्ग पर राजूरा थाना अंतर्गत मार्ग में कोयले को उतारा जाता है और वहां पर उसी मार्ग पर कोयला तस्कर अवैध तरीके से कोयले को नागाडा पडोली के टालो पर बेच कर मोटि कमाई कर माला माल हो यहे है। और राष्ट्रीय संम्पत्ति को करोडो का चुना लगाकर ऐसो आराम कि जिन्दगी गुजार रहे है।

कोयला तस्करी में मोटा सेटिंग का मायाजाल…

  • ‌कोयला तस्करों की सेटिंग्स इतनी जबरदस्त होती है की इन पर कार्रवाई करना साधारण अधिकारी के बस मे नही होता स्थानीय अधिकारी से लेकर स्पेशल दल कि टिम भी इनपर हाथ दालने से कतराती है। खुले आम वाहनो से कोयला  उतारकर छोटे छोटे पिकप वाहनो मे लाद, पडोली नागाडा के टालो पर पहुचाया जाता है पर नजर मे आने के बाद भी नजर अंदाज कर जनता कि आखो मे धुल झोक सम्बंधित अधिकारी इन कोयला तस्करों को छुट दे रहे है।