गढचादुर और कोरपना में अवैध सट्टा मटका का बढ़ता माया जाल,  गुर्गे चला रहे सट्टे का व्यापार

156

गढचादुर और कोरपना में अवैध सट्टा मटका का बढ़ता माया जाल, 

गुर्गे चला रहे सट्टे का व्यापार

चन्द्रपुर/महाराष्ट्र

दि. 21 अगस्त 2021

पुरी खबर:- चन्द्रपुर जिले के गढ़चादूर मे अवैध सट्टा मटका कल्याण, राजधानी और मिलन में आंकड़ों का खेल खेला जाता है। मटका एक तरह का सट्टा है जो जुए की तरह खेला जाता है इसका नतीजा ONLINE तरह से अपने निश्चित समय पर निकलता है। जिसे सट्टा मटका कहा जाता है हालांकि भारत में सट्टा या जुआ पूरी तरह से गैरकानूनी है लेकिन कानून से बचकर इस गेम को खेला जाता है। पहले इस गेम को ऑफलाइन खेला जाता था लेकिन सरकार के जुआ बैन करने के बाद इसे छिपकर ऑनलाइन खेला जाता है। जिसमे लागत ले रहे स्थानिक लोगों की भुमिका अहम होती है। लेंनगी से लेकर देंनगी (चुकारे) के लिए स्थानीय व्यक्ति को नियुक्त किया जाता है। जो पुरी नगदी रकम का लेन देन करता है। बाजार में कई तरह के सट्टा गेम मौजूद है जिसमें से कल्याण, राजधानी, मिलन जो जिले के प्रचलित सट्टा मटका आंकड़ों का खेल है।

 

इस खेल ने कई घरों को उजाडा है…!

  • ‌सट्टा मटका भारत में पुरी तरह से बैन होने के बावजूद है जल्दी पैसे कमाने के लालच में लोग सट्टा मटका के आंकड़ों के चक्कर में पड़ते हैं। हालांकि कई बार ज्यादा पैसे कमाने और सट्टे में पैसा लगाने के कारण लोगों को अपनी मोटी कमाई से हाथ भी धोना पड़ता है। इस खेल ने कई घरों को उजाडा है पर पिंडियों से जारी यह खेल प्रशासनिक अधिकार से आर्थिक लेन-देन कर नियमित रूप से जारी है।

 

इसी प्रकार गडचांदुर के वनसडी  में में अवैघ सट्टा व्यापारीयो का गढ़ बनता जा रहा है। यहां के सट्टा व्यापारी निर्भय होकर प्रसासन के नाक के नीचे अवैध संट्टा मटका चला है।

आने वाले भाग मे और भी खुलासे किए जाएंगे।