घुग्घुस क्षेत्र मे अवैध शराब कि तश्करी, बिक्री करनेवालो पर पुलिस कि चुप्पी ! एस पी सागर साहब दे खुद ध्यान..!

469

घुग्घुस क्षेत्र मे अवैध शराब कि तश्करी, बिक्री करनेवालो पर पुलिस कि चुप्पी

! एस पी सागर साहब दे खुद ध्यान..!

चन्द्रपुर/महाराष्ट्र
दि.02 अगस्त 2021
रिपोर्ट:- हनिफ शेख संवाददाता

पुरी खबर घुग्घुस: महाराष्ट्र राज्य मे सत्ता परिवर्तन होने के बाद राज्य मे जीत हासिल करने पर महाविकास सरकार के सत्ता संभालने के बाद महाविकास आघाडी से चंद्रपुर जिले के पालक मंत्री विजय वडेट्टीवार के प्रयासों से पुरे जिले मे 5 जुलाई को पुर्ण रुप से शराब बंदी उठा ली गई और जिले मे सभी परवाना धारक दुकानो को देशी, विदेशी शराब बेचने के लिए अनुमति भी दी गई।

शराब सुरू होने पर अब पहले जैसे थे वैसा दुकानो से शराब पीकर गीरने, लोटने, प्रकिया सुरू हो गई। जिले से शराब पाबंदी हटाने का मुख्य उद्देश शराब कि तशकरी और जिले बढ रहे अपराध को रोकने का था। परंतु इसके ऊलट जिले मे शराब के सुरू होते ही गोलीबारी, तेज हत्यार से गला रेतकर हत्या, झगड़ा, जैसे अपराध बढ गए है। जिले मे एक नही अनेक बडे अपराध माह के अंदर देखने को मिले है।

घुग्घुस क्षेत्र मे गाधी नगर, इदिरा नगर,  शास्त्री नगर, शिव नगर, असगर नाला, अमराई, बस्ती आदी ठिकानो पर अवैध शराब कि तशकरी और बिक्री बडी मात्रा मे सुरू है। यह शराब कि तश्करी और बिक्री करने वालो मे पुराने लोग ही गुडा  प्रवृत्ति के लोग शामिल है। जिन्हें पिछ्ले 6 साल से पुलिस और आबकारी विभाग का सरक्षण प्राप्त है? सरक्षण प्राप्त छुपकर बिक्री करनेवाले अब बेखौफ़ शराब कि बिक्री कर रहे और कुछ तश्करी करने वालो को परवाना धारक दुकानदार से मधुर संबंध भी है जो अवैध शराब कि बिक्री करनेवालो को भरपूर शराब कि पुर्ती कर रहे हैं।

शनिवार-रविवार पुर्व रुप से दुकाने बंद होने के बावजूद भी क्षेत्र में जगह-जगह पर फुलटाईम अवैध शराब कि बिक्री,पार्सल होती है। वैध परवाना धारक दुकानदार समय सारणी अनुसार बंद होने के बाद भी शराब पीनेवालो को शराब उपलब्ध कराई जा रही है। शराब पीकर गाड़ी चलाने, रास्ता जाम करने, बीच रास्ते गालीगलौच, झगड़ा, आदी से आने जाने वाले राहगीरों को समस्या का सामना करना पडता है। बाजार और मुख्य कालनी मे शराब कि दुकान होने से क्षेत्र कि महीला ,छात्र आनेजाने के लिए भयभीत हो रही है।

पुरे क्षेत्र मे वैध दुकान दारो से वैध शराब खरीदकर अवैध शराब की बिक्री करनेवालो पर पुलिस प्रशासन का डंडा कब चलेगा इसकी राह तकते नागरिकों आज अपने आप को असहाय महसूस कर रहे हैं। आबकारी और पुलिस प्रसासन के आला अधिकारियों इस ओर ध्यान आकर्षित कर इन वैध दुकानदारों पर कार्यवाही करने इस पर जनता नजर जमाए हुए हैं।