राज्य उत्पादन विभाग की जानबुझकर अनदेखी,जय’श्रीया की “जय जय” रात बारह बजे तक नियम को ताक पर रख ग्राहकों को बिठाकर शराब परोसी जा रही है, ! पवार साहेब दे खुद ध्यान !

1060

जय’श्रीया की “जय जय” रात बारह बजे तक नियम को ताक पर रख ग्राहकों को बिठाकर शराब परोसी जा रही है

अंधेरे नगरी चौपट राजा पांव शेर भांजी पांव शेर खाजा

चन्द्रपुर/महाराष्ट्र
दि. 28 जुलाई 2021

पुरी खबर :- चन्द्रपुर जिले में जहां छुट भैया फल सब्जी किराना आदी जीवन आवश्यक वस्तुओं को समय पर बंद करा दिया जाता है, वहीं दुसरी ओर अति विशिष्ट” (VIP) माने जाने वाले अष्टभुजा मंदिर को लगे, जयश्रीया बार और रेस्टोरेंट को रात 12 बजे तक चलाने की अनुमति किसने दि है? यह समझ के परे होने के बावजूद प्रसासन की पेट्रोलिंग टीम से आंख मिचौली खेल ग्राहको को रात 12 बजे तक टेबल पर बिठाकर शराब परोसी जा रही है।

यह तो जिला प्रसासन की आंखों में धुल झोंकने जैसा है। पुर्व में शराब बंदी को लेकर लोकसभा तथा विधानसभा में शराब के मुद्दों को उछालकर सत्ता में आए।

आज वैध दुकान दारो के अवैध कारनामों को अनदेखा कर प्रसासन क्यों चुप्पी साधे हुए हैं। जहां  जिले की सभी  रेस्टोरेंट एंड बार,वाईनशाप, देशी भट्टी , को समय पर बंद कर दिया जा रहा है वहीं शहर के बल्लारपुर मार्ग पर अष्टभुजा मंदिर को लगी बार एंड रेस्टोरेंट जयश्री या को स्पेशल अनुमति दी गई है क्या? एसे कई प्रश्न आज जनता के रक्षकों पर उठ रहे हैं।

क्या विशाल पंजा’बी संचालक के द्वारा इतने बेबाक तरह से बैगैर किसी प्रसासनिक अमले के सहयोग से खुले आम कानुन व्यवस्था की धज्जियां उड़ाई जा सकती है?