घुग्घुस पुलीस ने पकड़ी गई तीन करोड़ की शराब को नष्ट किया, 2017 से 2020 तक 3 करोड़ की शराब जप्त

620

चन्द्रपुर/महाराष्ट्र

दि. 28 मे 2021

रिपोर्ट :- हनिफ शेख संवाददाता

पुरी खबर घुग्घुस:- चंद्रपुर जिले मे 1 एप्रिल 2015 से शराब बेचने और पीने पर प्रतिबंध लाया गया था। जिला नशामुक्त रहे इसके लिए भाजप के पुर्व पालकमंत्री सुधिर मुनगंटीवार ने भी भरपुर प्रयास किया और प्रशाकिय पुलीस विभाग ने भी शराब बंदी पर अमलबजावणी के लिए शराब तश्करो से निपटने के लिए युध्दस्तर काम किया है। लेकिन अवैध शराब तस्करों पर लगाम कसने में नाकाम रहे है। जिससे जिले की शराब बंदी असफल साबीत हुई है। जिले मे शराब बंदी होने के बावजुद भी अन्य राज्यो और जिलो से चंद्रपुर मे अवैध शराब बडी मात्रा मे पहुचाई जा रही थी।

2017 से 2020 तक 3 करोड़ की शराब जप्त

  • ‌वहीं पकड़ी गई शराब को आज घुग्घुस पुलीस थाना अंतर्गत सन 2017 से 2020 तक कुल 3 करोड का देशी विदेशी शराब जप्त की गई थी। इन शराब तस्करों पर कारवाई मे 388 लोगो पर शराब बेचने और तश्करी करने पर गनाह दर्ज हुआ था।

न्यायालय के आदेश पर शराब नष्ट किया गया

  • ‌लेकीन अब जिले मे 27 मई 2021 को महाविकास आघाडी सरकार के पालक मंत्री विजय वडेट्टीवार द्वारा कॅबिनेट से प्रस्ताव मंजुर कर शराब बंदी हटा दी गई। जिले मे अब तक पुलीस कारवाई मे पकडी गई, सभी देशी विदेशी शराब को निष्क्रीय करने का न्यायलय द्वारा आदेश जारी होने पर, आज घुग्घुस पुलीस थाना अंतर्गत कुल 3 करोड रू की देशी विदेशी शराब पर रोड रोलर चढाकर नष्ट किया गया है।

आबकारी विभाग और पुलिस के द्वारा शराब नष्ट

  • ‌यह कारवाई घुग्घुस पुलीस थानेदार राहुल गांगुर्ड के मार्गदर्शन पर उमाकांत गौरकर अबकारी विभाग मारोती पाटील, जगदीश कापटे, प्रविकात लिमगडे, महेश कुभरे, सचिन बोरकर, गजानन झाडे, विनोद लोखंडे, रामदास आडे, नागो दहेगावकर, मनोहर धारणे आदी ने कि है।